Saturday, February 26, 2011

.......... अनुशासन .....

               लोको के केबिन  से बाहर और सामने का दृश्य...
            जीवन में अनुशासन का बड़ा महत्त्व है ! 
           जन्म  में  अनुशासन ..
            पालन-पोषण में अनुशासन ..
           दिन-चर्या में अनुशासन..
           चाल -चलन में अनुशासन..
           पढाई-लिखाई में अनुशासन..
           समाज के हर मोड़ पर अनुशासन..
           माता-पिता-पुत्र के बीच अनुशासन..
           गुरु - शिष्य के बीच अनुशासन..
           नेता और अभिनेता के बीच अनुशासन..
           हित-नाथ के बीच अनुशासन..
            राजा - प्रजा के बीच अनुशासन..
            ब्लॉगर और पाठक  के बीच अनुशासन..
           जन्म से मृत्यु तक अनुशासन..
           और क्या कहू..
           हर क्षेत्र में अनुशासन ..
            का बिशेष महत्त्व है.., क्योकि..
           इससे मिलता है..१००%..सफलता....आये  देखे  कैसे.?
          DISCIPLINE...इसमे हर वर्ड का ..अल्फाबेटिकल संख्या ले कर जोड़ दे !
          जैसे ...
          a=1,b=2,c=3,d=4,e=5,f=6,g=7,h=8,i=9,j=10,k=11,l=12,m=13,n=14
          o=15,p=16,q=17,r=18,s=19,t=20,u=21,v=22,w=23,x=24,y=25 and
           z=26. तो ..ऐसा योग होगा .......
     D  + I + S + C + I + P + L + I + N + E  = 
     4+9+19+3+9+16+12+9+14+5=100    यानि    १००% सफलता..
    जी,,हाँ..ये  झूठ नहीं  है...जीवन के हर कदम पर आजमा के देखिये..मै तो अग्रसर हूँ..
            
           


9 comments:

  1. बिल्कुल सही..... शब्दश सहमत

    ReplyDelete
  2. .सही गणना है ,सत्य कथन है.

    ReplyDelete
  3. कल 25/08/2011 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  4. अद्भुत!!! गणित के प्रयोग से प्रमेय को सिद्ध किया है.

    ReplyDelete
  5. bahut badiyaa aapki baat 100/sach hai .aapne ye aankade bataakar bhi bahut achha gyaan ki baat bataai.bahut bahut dhanyawaad aapka.aur bahut badhaai aapko.



    please visit my blog.
    www.prernaargal.blogspot.com

    ReplyDelete
  6. सही,सटीक और सार्थक ..

    ReplyDelete